Hum Tumhare Liye-Tum Hamare Liye Song

(Song In English and Hindi)

Song – Hum Tumhare Liye, Tum Hamare Liye,

Film – Intkaam

Lyrics Writer – Rajendra Krishan

Music Director – Laxmikant Pyarelal

Singer – Mohmmed Rafi and Lata Mangeshkar

Actors – Sanjay Khan and Sadhana

Hum Tumhare Liye, Tum Hamare Liye,

Hum Tumhare Liye, Tum Hamare Liye,

Phir Zamane Ka Kya Hai, Hamara Naa Ho,

Aap Ke Pyar Ka, Jo Mile Aasra,

Phir Khuda Ka Bhi Beshak Sahara Naa Ho,

Hum Tumhare Liye, Tum Hamare Liye,

Tum Hi Ho Dil Mein,

Tum Hi Ho Meri Nigahon Mein,

Naa Aur Ayega, Abh Koi Meri Raahon Mein,

Karoon Naa Aarzoo, Marane Ke Baad Jannat Ki,

Agar Ye Zindagi Guzre Tumhaari Baahon Mein,

Tumhaari Baahon Mein,

Pyar Ke Chaand Se, Raat Roshan Rahe,

Pyar Ke Chaand Se, Raat Roshan Rahe,

Phir Koi Aasmaan Pe Sitaara Na Ho,

Hum Tumhare Liye, Tum Hamare Liye,

Phir Zamane Ka Kya Hai, Hamara Naa Ho,.

Nazar Nazar Se, Kadam Se Kadam Milaye Hue,

Chale Hain Waqt Ki Raftaar Ko Bhulaye Hue,

Bahar Poochh Rahi Hai Chaman Ke Phoolon Se,

Ye Kaun Aaya Ke Tum Sab Ho Sar Jhukaye Hue,

Sar Jhukaye Hue,

Soch Mein Phool Hain, Hum Agar Chal Diye,

Soch Mein Phool Hain, Hum Agar Chal Diye,

Phir Chaman Mein Kabhi Ye Nazaara Na Ho,

Hum Tumhare Liye, Tum Hamare Liye,

Phir Zamane Ka Kya Hai, Hamara Naa Ho,.

Aap Ke Pyar Ka, Jo Mile Aasra,

Phir Khuda Ka Bhi Beshak Sahara Naa Ho,

Hum Tumhare Liye, Tum Hamare Liye,

Phir Zamane Ka Kya Hai, Hamara Naa Ho,.

गीत – हम तुम्हारे लिए, तुम हमारे लिए,

फिल्म- इंतकाम

गीतकार – राजेंद्र कृष्ण

संगीत गीत – हम तुम्हारे लिए, तुम हमारे लिए,

फिल्म- इंतकाम

गीतकार – राजेंद्र कृष्ण

संगीतकार – लक्ष्मीकांत प्यारेलाल

गायक कलाकार – मोहम्मद रफ़ी और लता मंगेशकर

कलाकार – संजय खान और साधना

हम तुम्हारे लिए, तुम हमारे लिए,

हम तुम्हारे लिए, तुम हमारे लिए,

फिर ज़माने का क्या है, हमारा ना हो,

आप के प्यार का, जो मिले आसरा,

फिर खुदा का भी बेशक सहारा ना हो,

हम तुम्हारे लिए, तुम हमारे लिए,

तुम ही हो दिल में,

तुम ही हो मेरी निगहों में,

ना और आएगा, अब कोई मेरी राहों में,

करूँ ना आरज़ू, मरने के बाद जन्नत की,

अगर ये जिंदगी गुज़रे तुम्हारी बाहों में, तुम्हारी बाहों में,

प्यार के चाँद से, रात रोशन रहे,

प्यार के चाँद से, रात रोशन रहे,

फिर कोई आसमान पे सितारा ना हो,

हम तुम्हारे लिए, तुम हमारे लिए,

फिर ज़माने का क्या है, हमारा ना हो,

नज़र नज़र से, कदम से कदम मिलाये हुए,

चले हैं वक्त की रफ्तार को भुलाये हुए,

बहार पूछ रही है चमन के फूलों से,

ये कौन आया के तुम सब हो सर झुकाए हुए, सर झुकाए हुए,

सोच में फूल हैं, हम अगर चल दिए,

सोच में फूल हैं, हम अगर चल दिए,

फिर चमन में कभी ये नज़ारा ना हो,

हम तुम्हारे लिए, तुम हमारे लिए,

फिर ज़माने का क्या है, हमारा ना हो,

आप के प्यार का, जो मिले आसरा,

फिर खुदा का भी बेशक सहारा ना हो,

हम तुम्हारे लिए, तुम हमारे लिए,

फिर ज़माने का क्या है, हमारा ना हो।

(Image: Google Images)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: